पेशाब में दर्द और जलन के कारण, इलाज और रोकथाम

पेशाब करने के दौरान दर्द या जलन की समस्या को मेडिकल भाषा में डिस्‍युरिया (dysuria) कहते हैं। यह दर्द मूत्राशय, मूत्रमार्ग या मूलाधार में उत्पन्न हो सकता है। मूत्रमार्ग वह ट्यूब है जो आपके शरीर के बाहर मूत्र ले जाती है।

पुरुषों में, अंडकोश और गुदा के बीच के क्षेत्र को मूलाधार के रूप में जाना जाता है। महिलाओं में, मूलाधार गुदा और योनि के छिद्र के बीच का क्षेत्र होता है।

पेशाब करते समय दर्द होना बहुत आम समस्या है। पेशाब में दर्द, जलन या चुभन होना कई चिकित्सीय स्थितियों का संकेत दे सकती है।

दर्दनाक पेशाब का क्या कारण है?

मूत्र मार्ग में संक्रमण

पेशाब में दर्द होना मूत्रमार्ग के संक्रमण (यूटीआई) का एक आम लक्षण होता है। यह एक बैक्टीरियल संक्रमण का परिणाम हो सकता है। यह मूत्रमार्ग में सूजन के कारण भी हो सकता है।

मूत्रमार्ग, मूत्राशय, मूत्रवाहिनी और गुर्दे आपके मूत्र पथ का निर्माण करते हैं। मूत्रवाहिनी नलिकाएं होती हैं, जो मूत्र को गुर्दे से मूत्राशय तक ले जाती हैं। इनमें से किसी भी अंग में सूजन से पेशाब के दौरान दर्द हो सकता है।

सिंगापुर में हुए एक शोध के अनुसार, पुरुषों की तुलना में महिलाओं में यूटीआई होने की सम्भावना ज्यादा होती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि महिलाओं में मूत्रमार्ग छोटा होता है। एक छोटे मूत्रमार्ग का मतलब है कि मूत्राशय तक पहुंचने के लिए बैक्टीरिया को कम दूरी तय करनी होगी।

जो महिलायें गर्भवती हैं या रजोनिवृत्त हैं, उनमें भी मूत्र पथ के संक्रमण का खतरा और ज्यादा बढ़ जाता है।

यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई)

यदि आपको कोई यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई) हो गया है, तो आपको पेशाब करते समय दर्द का अनुभव भी हो सकता है। कुछ एसटीआई जो दर्दनाक पेशाब का कारण बन सकते हैं उनमें जननांग दाद, गोनोरिया और क्लैमाइडिया शामिल हैं।

नियमित रूप से एसटीआई की जांच करवाते रहना महत्वपूर्ण है, खासकर उन लोगों के लिए जो यौन रूप से सक्रिय हैं, क्योंकि एसटीआई के हमेशा लक्षण नहीं होते हैं।

प्रोस्टेटाइटिस (प्रोस्टेट की सूजन)

अन्य चिकित्सीय स्थितियां भी दर्दनाक पेशाब का कारण बन सकती हैं। पुरुषों को प्रोस्टेटाइटिस के कारण दर्दनाक पेशाब का अनुभव हो सकता है।

प्रोस्टेटाइटिस प्रोस्टेट ग्रंथि की सूजन की समस्या होती है। पेशाब में जलन, चुभन और बेचैनी इसके मुख्य लक्षण होते हैं।

सिस्टायटिस

दर्दनाक पेशाब का एक अन्य कारण सिस्टायटिस या मूत्राशय की परत की सूजन है। इसलिए सिस्टायटिस को दर्दनाक मूत्राशय सिंड्रोम भी कहा जाता है। इसके कारण मूत्राशय के आसपास की स्किन सेंसिटिव भी हो सकती है।

कुछ मामलों में, रेडिएशन थेरेपी भी मूत्राशय और मूत्रमार्ग के दर्द का कारण बन सकती है। इस स्थिति को रेडिएशन सिस्टायटिस के रूप में जाना जाता है।

यूरेथ्राइटिस

यूरेथ्राइटिस एक ऐसी स्थिति है जिसमें मूत्रमार्ग, या नली जो मूत्राशय से मूत्र को शरीर के बाहर ले जाती है, उसमें सूजन आ जाती है। आमतौर पर यह सूजन किसी बैक्टीरियल संक्रमण के कारण होती है।

यूरेथ्राइटिस में अक्सर पेशाब करते समय दर्द होता है और बार-बार पेशाब करने की इच्छा हो सकती है।

एपीडीडीमिटिस

एपीडीडीमिटिस तब होता है, जब पुरुषों की एपीडीडीमिस नामक नलिका में सूजन आ जाती है। इस नलिका को अधिवृषण भी कहा जाता है। यह पुरुषों के अंडकोष के पीछे स्थित होती है और अंडकोष से शुक्राणुओं को निकालने और स्टोर करने का काम करती है।

पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज (पीआईडी)

जननांगों के आसपास के क्षेत्र को पेल्विक कहा जाता है। इस क्षेत्र में सूजन की समस्या को पेल्विक इंफ्लेमेटरी डिजीज या पीआईडी कहा जाता है। पीआईडी फैलोपियन ट्यूब, अंडाशय, गर्भाशय ग्रीवा और गर्भाशय को प्रभावित कर सकती है।

इसमें पेशाब में जलन और दर्द के साथ-साथ, पेट और सेक्स क्रिया में भी दर्द हो सकता है।

पीआईडी एक गंभीर संक्रमण है, जो आमतौर पर योनि में एक प्रारंभिक बैक्टीरियल संक्रमण के कारण होता है और फिर प्रजनन अंगों में फैल जाता है।

प्रतिरोधी यूरोपैथी

प्रतिरोधी यूरोपैथी तब होती है जब मूत्रवाहिनी, मूत्राशय या मूत्रमार्ग में रुकावट के कारण मूत्र वापस गुर्दे में प्रवाहित हो जाता है। इसके होने के कई अलग-अलग कारण हो सकते हैं, लेकिन लक्षण होने पर डॉक्टर की सहायता लेना महत्वपूर्ण है।

यूरेथ्रल स्ट्रीक्चर नामक एक अन्य स्थिति, जिसमें मूत्रमार्ग संकुचित हो जाता है, के कारण भी पेशाब करते समय दर्द और जलन हो सकती है।

पथरी (किडनी स्टोन)

यदि आपको गुर्दे की पथरी है, तो भी आपको पेशाब करने में कठिनाई हो सकती है। गुर्दे की पथरी मूत्र पथ में स्थित कठोर पदार्थ के समूह होते हैं।

दवाएं

कुछ दवाएं, जैसे कि कैंसर दवाएं और कुछ एंटीबायोटिक दवाएं, साइड इफेक्ट के रूप में पेशाब में दर्द पैदा कर सकती हैं। यदि आप किन्हीं दवाओं का सेवन कर रहे हैं, तो इनके संभावित दुष्प्रभावों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें।

स्वच्छता के उत्पाद

कभी-कभी पेशाब में दर्द किसी संक्रमण के कारण नहीं होता है। यह उन उत्पादों के कारण भी हो सकता है, जिनका उपयोग आप अपने जननांग क्षेत्रों में करते हैं। विशेष रूप से साबुन, लोशन और बबल बाथ योनि के ऊतकों को परेशान कर सकते हैं।

कपड़े धोने के डिटर्जेंट और अन्य प्रसाधन उत्पाद भी जलन पैदा कर सकते हैं और दर्दनाक पेशाब का कारण बन सकते हैं।

दर्दनाक पेशाब के लिए उपचार के विकल्प क्या हैं?

उपचार से पहले दर्द के कारण का सही पता लगाना महत्वपूर्ण है।

दर्दनाक पेशाब के इलाज के लिए आपका डॉक्टर कुछ दवाएं लिख ​​सकता है। एंटीबायोटिक दवाएं मूत्रमार्ग के संक्रमण, कुछ बैक्टीरियल संक्रमण और कुछ यौन संचारित रोगों का इलाज कर सकती हैं। आपके मूत्रमार्ग के दर्द और इन्फ्लेमेशन को कम करने के लिए डॉक्टर कुछ दर्दनिवारक दवाएं भी लिख सकता है।

एक बैक्टीरियल संक्रमण के कारण होने वाली दर्दनाक पेशाब आमतौर पर दवा लेना शुरू करने के काफी जल्दी बाद ठीक हो जाती है। लेकिन हमेशा दवा ठीक उसी तरह लें जैसे आपका डॉक्टर निर्धारित करता है।

कुछ संक्रमणों जैसे सिस्टायटिस से जुड़े दर्द का इलाज करना चुनौतीपूर्ण हो सकता है। दवाओं की थेरेपी के परिणाम धीमे हो सकते हैं। इससे पूरी तरह से ठीक होने के लिए आपको 4 महीने तक दवा लेनी पड़ सकती है।

मैं पेशाब में दर्द और जलन से कैसे बचूँ?

अपने लक्षणों से राहत पाने के लिए आप अपनी जीवनशैली में कुछ बदलाव कर सकते हैं।

  • जलन के जोखिम को कम करने के लिए कपड़े धोने वाले सुगंधित डिटर्जेंट और प्रसाधन सामग्री से दूर रहें।
  • सेक्स क्रिया के दौरान कंडोम या अन्य बाधा विधियों का प्रयोग करें।
  • पेशाब में दर्द की सम्भावना को बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों (जैसे अत्यधिक अम्लीय खाद्य पदार्थ, कैफीन और शराब) से परहेज करें।
  • खूब पानी पियें और हाइड्रेटेड रहें।

डॉक्टर से कब मिलें?

निम्न स्थितियों में आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए:

  • यदि दर्द लगातार या लंबे समय तक बना रहता है
  • यदि आप गर्भवती महिला हैं
  • दर्द के साथ-साथ आपको बुखार भी है
  • यदि आपके लिंग या योनि से कोई रिसाव निकल रहा है
  • यदि आपके मूत्र में एक अलग गंध है, उसमें रक्त है, या वह बादलों जैसा सफेद गाड़ा है
  • पेशाब में दर्द के साथ-साथ आपको पेट में भी दर्द है
  • यदि आपको गुर्दे की पथरी है

डॉक्टर आपके अन्य लक्षणों के बारे में भी पूछ सकता है और दर्द के कारण का सही पता लगाने के लिए लैब टेस्ट कराने की सलाह भी दे सकता है।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.